Hindi
Tuesday 17th of October 2017
code: 81245
जगह जगह हुईं शामे ग़रीबाँ की मजलिसें

अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना :प्राप्त सूत्रों के अनुसार ईरान एवं इराक़ सहित समस्त विश्व में कर्बला के शहीदों की याद में शामे ग़रीबाँ की मजलिसों का सिलसिला जारी रहा । कर्बला के जंगल में अंधेरे में ख़ाक पर बैठी बीबियों की याद में अंधेरे में शामे ग़रीबाँ की मजलिसों एवं जुलूस का आयोजन किये गये। जिसमें अज़ादारों नें जमा होकर आँसुओं का नज़राना पेश कर कर्बला के शहीदों को श्रद्धाँजलि अर्पित की ।

user comment
 

latest article

  सबसे अच्छी मीरास
  मोमिन की नजात
  सऊदी अरब में क़ुर्आन का अपमान
  शोहदाए बद्र व ओहद और शोहदाए कर्बला
  ख़ून की विजय
  हज़रत अब्बास (अ.)
  हबीब इबने मज़ाहिर एक बूढ़ा आशिक
  जगह जगह हुईं शामे ग़रीबाँ की मजलिसें
  हज़रत इमाम सज्जाद अ.स.
  साजेदीन की शान इमामे सज्जाद अलैहिस्सलाम